By MySanskruti on Nov 18, 2023

Labh Pancham or Labh Panchami is celebrated on the Panchami tithi of the Hindu calendar in the Shukla Paksha of Kartik month.Labh means ‘Benefit’ or ‘Good luck’, and Pancham means ’Fifth’. Labh Pancham is also known as ‘Laakheni Panchmi’, ‘Gyan Panchmi’, and ‘Saubhaagya Panchmi’. Labh Pancham usually falls one week after Kali Chaudas and five days after Diwali. On this day, devotees offer prayers to Lord Ganesha and Goddess Lakshmi and open their books of account on the auspicious day of Labh Panchami. The terms Shubh and Labh play a pivotal role during Labh Panchami celebrations. Shubh denotes auspiciousness while Labh refers to benefit/profit. Businesspersons write Shubh on the left and Labh on the right and draw a Swastika in between these two words on the first page of their accounts book. Jains celebrate Labh Pancham by worshipping their books and praying for knowledge with a variety of offerings, sweets, and fruits. From the day of Diwali to Labh Pancham, it is a tradition to visit your friends and relatives. It is also a time to renew good relations amongst them all. Sweets and other gifts are exchanged on Labh Pancham, which symbolises the sweetening of relationships with each other.

Hindi Translation

लाभ पंचम या लाभ पंचमी हिन्दू कैलेंडर की पंचमी तिथि को मनाई जाती है। कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष में लाभ का अर्थ है 'लाभ' और 'गुड लक', ओर पंचम का अर्थ है 'पांचवां लाभ पंचम को 'लखनी पंचमी', 'ज्ञान पंचमी' और 'सौभाग्य पंचमी' के नाम से भी जाना जाता है। लाभ पंचम आमतौर पर काली चौदस के एक सप्ताह बाद और दिवाली के पांच दिन बाद पड़ता है। इस दिन भक्त भगवान गणेश और देवी लक्ष्मी की पूजा अर्चना करते हैं । और लाभ पंचमी के पावन दिन अपना खाता खोलते है। लाभ पंचमी समारोह के दौरान शब्द शुभ और लाभ अहम भूमिका निभाते हैं । शुभ शुभता को दर्शाता है जबकि लाभुक लाभ को दर्शाता है। व्यवसायी लोग पुस्तक के पहले पृष्ठ पर शुभ और लाभ लिखते है और इन दो शब्दों के बीच में आकर्षित एक स्वस्तिक करते है । जैन लोग अपनी पुस्तकों की पूजा कर के लाभ पंचम मानते है। ओर विभिन्न प्रकार के प्रसाद, मिठाई और फलों के साथ ज्ञान के लिए प्रार्थना करते हैं। दिवाली के दिन से लाभ पंचम तक अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के यहां जाने की परंपरा है। यह उन सभी के बीच अच्छे संबंधों को नवीनीकृत करने का भी समय है। लाभ पंचम पर मिठाइयों और अन्य उपहारों का आदान-प्रदान किया जाता है, जो एक दूसरे के साथ संबंधों में मधुरता का प्रतीक है।

मूषिकवाहन् मोदकहस्त चामरकर्ण विलम्बित सूत्र।
वामनरूप महेश्वरपुत्र विघ्नविनायक पाद नमस्ते॥

English Translation

O Lord, whose vehicle is a rat, whose hands are holding modakas (laddus), whose ears are like large feathers, and who is wearing the sacred thread. Whose form is small and who is the son of Maheshwara, who is the destroyer of all obstacles, I bow at your feet.

Hindi Translation

हे भगवान, जिनका वाहन चूहा है, जिनके हाथों में मोदक (लड्डू) हैं,
जिनके कान बड़े पंखों की तरह हैं, और जिन्होंने पवित्र धागा पहना हुआ है।
जिनका रूप छोटा है और जो महेश्वर के पुत्र हैं,
जो सभी विघ्नों का नाश करने वाले हैं, मैं आपके चरणों में नतमस्तक हूं।

By MySanskruti on Oct 29, 2022

लम्बोदरं महाकायं गजवक्त्रं चतुर्भुजम्। आवाहयाम्यहं देवं गणेशं सिद्धिदायकम्।।

English Translation

He had a long belly and a massive body with the face of an elephant and four arms I invoke Lord Ganesha who bestows perfection.

Hindi Translation

उनका एक लंबा पेट और एक हाथी के चेहरे और चार भुजाओं वाला एक विशाल शरीर था मैं भगवान गणेश का आह्वान करता हूं जो पूर्णता प्रदान करते हैं।

By MySanskruti on Nov 9, 2021

एकदंताय वक्रतुंडाय गौरी तन्नो य धीमही।
गजेशानाय भालचंद्राय श्री गणेशाय धीमहि।।

English Translation

Lord with One Tusk ,Having Curved Trunk,Son of Gauri We offer our prayers to you.One who bears a crescent moon on his forehead. The Auspicious Lord Ganesha.We offer our prayers to you

Hindi Translation

भगवान जो एक दांत के साथ , घुमावदार सूंड वाले गौरी के बेटे जो अपने माथे पर वर्धमान चंद्र लिये है। ऐसे शुभ भगवान गणेश हमारी प्रार्थना को स्वीकारे।

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on email
Email
Share on linkedin
LinkedIn
Share on google
Google+
Share on facebook
Share on whatsapp
Share on email
Share on linkedin
Share on google